Breaking

Thursday, March 19, 2020

Work-Life Balance: कार्य-जीवन संतुलन हमारे जीवन में इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

एक सामंजस्यपूर्ण कार्य-जीवन संतुलन (harmonious work-life balance) या कार्य-जीवन एकीकरण (work-life integration) महत्वपूर्ण है, न केवल हमारे शारीरिक, भावनात्मक और मानसिक कल्याण और जीवन शैली (lifestyle) को बेहतर बनाने के लिए, बल्कि यह हमारे करियर के लिए भी महत्वपूर्ण है।
work-life balance
Maintaining work-life balance is not only important for a healthy lifestyle, good mental health and personal relationships, but it can also improve your performance efficiency.

Why is work-life balance so important in our lives?

आज, तेजी से बढ़ती इस कारोबारी दुनिया में, कार्य जीवन संतुलन (work-life balance) प्राप्त करना अधिक से अधिक कठिन होता जा रहा है।
अक्सर, हमारे जीवन में हर चीज के ऊपर काम को प्राथमिकता दी जाती है। लेकिन पेशेवर रूप से सफल होने की अधिक इच्छा हमें हमारे स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह और उदासीन बना सकती है।

कार्य-जीवन संतुलन क्या है?

कार्य-जीवन संतुलन (Work-life balance) कार्य और अन्य जीवन भूमिकाओं के बीच विरोध का अभाव है। कार्य-जीवन संतुलन (work-life balance) संतुलन की वह स्थिति है, जहाँ व्यक्ति अपने करियर की माँगों और व्यक्तिगत जीवन की माँगों को समान रूप से प्राथमिकता देता है।

कार्य-जीवन संतुलन हमारे जीवन में क्यों महत्वपूर्ण है?

कार्य-जीवन संतुलन (Work-life balance) महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपको काम और घर को अलग करने की अनुमति देता है, जिसका अर्थ है कि काम का तनाव काम के समय तक ही सीमित रहे, और कार्यालय के घंटों के बाहर इस तनाव का प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए।

कार्य-जीवन संतुलन बनाए रखना न केवल आपके व्यक्तिगत स्वास्थ्य और संबंधों के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि यह आपके कार्य प्रदर्शन की दक्षता में भी सुधार कर सकता है।

एक अच्छा कार्य-जीवन संतुलन कई सकारात्मक प्रभाव डालता है, जिसमें कम तनाव, बर्नआउट का कम जोखिम और भलाई का एक बड़ा बोध है। इससे न केवल कर्मचारियों को बल्कि नियोक्ताओं को भी फायदा होता है।

खराब कार्य-जीवन संतुलन जीवन में खराब प्रदर्शन या बाद के जीवन में खराब स्वास्थ्य की ओर ले जाता है। खराब कार्य-जीवन संतुलन के सामान्य कारणों में कुछ शामिल हैं:
  • काम पर जिम्मेदारियों में वृद्धि
  • लंबे समय तक काम करना
  • घर में जिम्मेदारियों में वृद्धि 
  • अधिक बच्चे का होना
नियोक्ता (Employers) जो अपने कर्मचारियों (employees) के लिए कार्य-जीवन संतुलन का समर्थन करने वाले वातावरण प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, वे लागत पर बचत कर सकते हैं, अनुपस्थिति के कम मामलों का अनुभव कर सकते हैं, और अधिक वफादार (loyal) और उत्पादक कार्यबल (productive workforce) का आनंद ले सकते हैं।
नियोक्ता जो टेलीकम्यूटिंग या लचीले कार्य शेड्यूल के रूप में विकल्प प्रदान करते हैं, कर्मचारियों को बेहतर कार्य-जीवन संतुलन बनाने में मदद कर सकते हैं।

जब खुद के लिए कार्य शेड्यूल बनाते हैं, तो काम पर और अपने निजी जीवन में संतुलन हासिल करने के सबसे अच्छे तरीके के बारे में सोचें।

काम और निजी जीवन के बीच समान रूप से अपने दिन औेर घंटों को विभाजित करं।
और अपने व्यक्तिगत जीवन का आनंद लेने और अपने पेशेवर जीवन में चीजों को प्राप्त करने के लिए समय में लचीलापन पैदा बहुत महत्वपूर्ण है।

यदि कार्यालय के काम का समय समाप्त होजाए, तो आपका पूरा ध्यान आपके गृह जीवन पर होना चाहिए और बाकी समय आपको अपने घर के लोगों के साथ बिताना चाहिए।

अपने जीवन-साथी, बच्चों या दोस्तों के साथ समय बिताते समय, आपका ध्यान केवल आपके द्वारा किए जा रहे अनुभव पर केंद्रित होना चाहिए, बजाय इसके कि आप काम के बारे में सोचें।
इसी तरह, यदि आप कार्यालय में हैं, तो काम पर अधिक ध्यान देना चाहिए। बदले में, यह आपको अधिक कुशल कार्यकर्ता बनाता है और कार्य-जीवन संतुलन प्राप्त करने के कई लाभों को प्रदर्शित करता है।

कुछ दिन ऐसे हो सकते हैं जहां आप लंबे समय तक काम करते हैं इसलिए आपके पास सप्ताह में बाद में अन्य गतिविधियों का आनंद लेने के लिए समय होना चाहिऐ।

यदी आप खुद पर ध्यान देते हैं, व्यायाम करने और आराम करने के लिए समय निकालते हैं तो ये अपकी स्वास्थ्य समस्याओं को सीमित करने में योगदान दे सकते हैं और आपको व्यवसाय के घंटे के दौरान अधिक कुशल कार्यकर्ता बना सकते हैं।

No comments:

Post a Comment